Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

 

पोर्टल के प्रयोक्‍ता प्रश्‍न पूछने, सूचना प्राप्‍त करने, स्‍पष्‍टीकरण मांगने या समस्‍याओं का समाधान करने के लिए भारतीय रेलवे संग्‍ठन से संपर्क करने के इच्‍छुक हो सकते हैं। अत: यह आवश्‍यक है कि यह वेबसाइट उन्‍हें संपर्क करने का माध्‍यम उपलबध कराए।

  • सभी भारतीय रेलवे वेबसाइटों में हमसे संपर्क करें पृष्‍ठ अवश्‍य होने चाहिए जिसके लिए होमपेज सहित वेबसाइट के सभी संबंधित स्‍थानों से लिंक उपलबध हों।
  • हमसे संपर्क करें पृष्‍ठ का श्रेणीकरण अलग-अलग प्रकार के प्रश्‍नों जैसे कि शिकायात निपटान, फाईल स्‍थिति, प्रक्रियात्‍मक विवरण आदि का प्रबंध करने वाले विभिन्‍न मंडलों के अनुसार किया जाना चाहिए।
  • विभाग के महत्‍वपूर्ण कार्यकारिणियों के संपर्क विवरण में वैयक्‍तिक पब्‍लिक डीलिंग (यदि लागू हो) के लिए निर्धारित समय के साथ उनके टेलीफोन नंबर, फैक्‍स नंबर, डाक पता आदि भी शामिल होने चाहिए। विभाग की विषयगत नीति में उन कार्यकारिणियों की सूची भी शामिल होनी चाहिए जिनके विवरण वेबसाइट पर दिए गए हैं।
  • वेबसाइट पर पाए गए अवास्‍तविक सूचनाओं के सुधार के लिए एक स्‍पष्‍ट नीति होनी चाहिए। वेब सूचना प्रबंधक का संपर्क विवरण उपलब्‍ध कराया जाना चाहिए जो वेबसाइट पर उपलब्‍ध सामग्री के लिए जिम्‍मेवार है।

राष्‍ट्रीय पोर्टल तंत्र में उपस्‍थिति यह सुनिश्‍चित करने के लिए अपने स्‍थान पर होने चाहिएकि सभी नागरिक सेवाएं, फार्म, दस्‍तावेज, योजनाओं को राष्‍ट्रीय पोर्टल के संबंधित रेस्‍पोटरीस के साथ पंजीकृत किया जा सके।

अनुषांगिक विषय
अलग-अलग श्रोताओं, आयोजनों एवं अवसरों के अनुकूल अनुषांगिक विषय प्राथमिक विषय की छंटनी एवं संकलन द्वारा उत्‍पन्‍न की जाती है

आयोजनें एवं उद्घोषणाएं
भारतीय रेलवे के वेबसाइट में विभिन्न आयोजनों एवं घोषणाओं को कवर करने के लिए एक सेक्‍शन होना चाहिए जैसे कि :

1.राष्‍ट्रीय/राज्‍य स्‍तर के महत्‍वपूर्ण घोषणाओं को वेबसाइट में प्रकाशित किया जाना चाहिए।

2.किसी संबंधित संगठन/मंत्रलाय/विभग/राज्‍य/केंद्र द्वारा आयोजित की जाने वाली सरकारी आयोजनों एवं भारतीय रेलवे द्वारा आयोजित की जाने वाली आयोजनों से संबंधित महत्‍वपूर्ण घोषणाएं

3.योजनाओं/अनुदानों/फेलोशिप आदि से जुड़ी घोषणाएं

4.प्राकृतिक आपदन/ महामारी आदि की चेतावनी

5.आपदा के दौरान राहत निधि का अह्वान। अन्‍य एजेंसियों से मदद की अपील

6.संकट की घड़ी में महत्‍वपूर्ण हेल्‍पलाइन नंबरों का प्रदर्शन


आयोजनों एवं घोषणाओं के लिए दिशानिर्देश

1.घोषण को हटाना या संचित रखना आवश्‍यक है जब इसकी प्रासांगिकता समाप्‍त हो जाती है अथवा आयोजन या कार्यक्रम के साथ जुड़ी समय अवधि समाप्‍त हो जाती है।

2.व्‍यापक प्रसार के लिए सभी महत्‍वपूर्ण घोषणाओं को राष्‍ट्रीय पोर्टल में भी प्रकाशित किया जाना चाहिए।

3.उन व्‍यक्‍तियों को ध्‍यान में रखते हुए घोषणाओं को सरल अंग्रेजी या क्षेत्रीय भाषा में दी जानी चाहिए, जिनके लिए इसे प्रकाशित किया गया हो।

संबद्ध लिंक

वेबसाइट के विभिन्‍न मोड्यूलों में प्रत्‍येक विषय के लिए संबंधित सूचना के लिए एक संबंधित लिंक उपलब्‍ध कराई जानी चाहिए। वेबसाइट में दी गई प्रत्‍येक विषय वस्‍तु के साथ अन्‍य सरकारी वेबसाइट से जुड़ी संबंधित लिंक उपलब्‍ध कराई जा सकती है जो उस विषय पर और जानकरी उपलब्‍ध कराते हैं।

1.प्रत्‍येक संबद्ध लिंक के लिए वेबसाइट के पूर्ण शीर्षक के साथ-साथ होमपेज/संबंधित वेबपेज का पूर्ण यूआरएल सटीक रूप से उपलब्‍ध कराई जानी चाहिए जो स्‍क्रीन पर प्रकट होगी।

2.यूआरएल की वैधता एवं सटीकता की जांच यह सुनिश्‍चित करने के लिए नियमित रूप से की जानी चाहिए कि सूचना प्रासंगिक है तथा लिंक किया गया पता सही है।

3.केवल सरकारी वेबसाइटों/वेबपेजों को ही संबद्ध लिंक के रूप में और अधिक जानकारी के लिए उपलबध कराया जाना चाहिए चूँकि निजी वेबसाइटों में सूचना की सत्‍यता एवं उपलब्‍धता पर कोई नियंत्रण नहीं है।




Source : मेट्रो रेलवे कोलकता / भारतीय रेल का पोर्टल CMS Team Last Reviewed on: 31-03-2017