Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS

मेट्रो रेलवे के वित्‍त एवं लेखा विभाग के प्रमुख हैं - वित्‍त सलाहकार एवं मुख्‍य लेखा अधिकारी जिनका सहयोग करते हैं - वित्‍तीय सलाहकार एवं मुख्‍य लेखा अधिकारी (निर्माण) तथा 3 उप वित्त सलाहकार एवं मुख्‍य लेखा अधिकारी, 2 वरिष्‍ठ सहायक वित्‍त सलाहकार, 3 सहायक लेखा अधिकारी एवं सूचना प्रौद्योगिकी केंद्र में 1 प्रोग्रामर (कुल : 11)। ये थी राजपत्रित अवसंरचना। इनके अतिरिक्त 31.03.2013 की स्‍थिति के अनुरूप रोकड़ एवं वेतन कार्यालय और सूचना प्रौद्योगिकी केंद्र को शामिल करते हुए लेखा विभाग की स्‍वीकृत बल 163 में से वर्तमान कर्मचारी क्षमता 149 (अराजपत्रित) है, जिसमें परिचालन एवं अनुरक्षण तथा निर्माण खंड दोनों शामिल हैं। लेखा विभाग मुख्‍यत: निम्‍नलिखित के लिए जिम्‍मेवार है :

·रेलवे के लेखे का रख-रखाव

·आय (प्राप्‍तियाँ) एवं व्‍यय को प्रभावित करने वाले लेन-देन की आंतरिक जांच।

·रेलवे के विरूद्ध दावों का निपटान

·रेलवे वित्‍त से जुड़े मामलों में प्रशासन को सलाह देना।

·लेखा संकलन

·बजट संकलन एवं व्‍यय की आवधिक समीक्षा

·रेलवे बोर्ड को आवधिक रिपोर्ट भेजने सहित अन्‍य प्रबंधन लेखा कार्यों का निष्‍पादन

·राजस्‍व संग्रह करना (टिकट बिक्री के अतिरिक्‍त) तथा भुगतान का वितरण




Source : मेट्रो रेलवे कोलकता / भारतीय रेल का पोर्टल CMS Team Last Reviewed on: 23-06-2015